स्टैमिना कैसे बढ़ाये – स्टेमिना बढ़ाने के आसान तरीके – Stamina Kaise Badhaye

stamina kaise badhaye in hindi

Stamina Kaise Badhaye in Hindi : कामकाजी महिलाएं,दफ्तर जाने वाले पुरुष या खेल (Sports) खेलने वाले बच्चे हर किसी को शक्ति की जरूरत होती है और यह शक्ति हमे स्टैमिना (Stamina in hindi) से मिलती है।

अक्सर हमे यह सुनने को मिलता है की थोड़े समय में ही थकान महसूस होना, कुछ दूर दौड़ने या चलने में साँस फूल जाना यानि छोटे-छोटे कामो में ही शरीर जवाब दे जाना जैसी समस्याएं सामने आती है।

ऐसे हजारों सवाल हमें रोज सुनने को मिलते हैं। अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो आपको इसके लिए तैयार रहना चाहिए, क्योंकि यह आपकी सेहत के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

ऐसा क्यों होता है ?

तो इसका मुख्य कारण शरीर में ऊर्जा या स्टैमिना की कमी है। क्योंकि स्टेमिना ही है जो किसी कार्य को निश्चित तीव्रता या लम्बे समय तक करने की क्षमता प्रदान करता है।

तो इसी के आधार को देखते हुए आगे हमने बताया है – Stamina Kaise Badhaye, स्टैमिना क्या है ,स्टैमिना कम होने के लक्षण, स्टैमिना बढ़ाने वाली एक्सरसाइज, स्टैमिना बढ़ाने वाले फ़ूड (stamina badhane wale Food), स्टैमिना बढ़ाने के लिए आराम और कुछ जरूरी बातें।

चलिए सबसे पहले जानते है स्टैमिना क्या है? – Stamina kya hai

स्टेमिना क्या है ? (What is stamina in Hindi)

स्टैमिना का अर्थ होता है आंतरिक शक्ति। यानि साधारण भाषा में किसी व्यक्ति के द्वारा कोई भी कार्य बिना किसी थकावट के लम्बे समय तक जारी रखना स्टैमिना कहलाता है। चाहे वो कार्य मानसिक रूप से हो या शारीरिक रूप से।

आमतौर पर स्टैमिना शब्द सुनते ही इसे केवल शारीरिक खेलो से जोड़कर देखा जाता है लेकिन देखा जाये तो यह हमारे छोटे-छोटे-कामो जैसे पैदल चलना हो या दौड़ना , घर का काम हो या ऑफिस का, सभी में ही स्टेमिना का अपना ही महत्व होता है।

देखा जाए तो यह खिलाड़ियों के लिए सबसे बड़ी पूंजी की तरह है, जितना अधिक स्टैमिना होगा, उतना ही खेल में ध्यान ज्यादा दिया जायेगा।

खेलकूद में तो इसका अपना ही महत्व है, लेकिन साथ ही यह बीमारियों और तनाव से लड़ने में भी मदद करता है।

जैसा हम देखते है की कामकाजी महिलाएं,दफ्तर जाने वाले पुरुष या खेल (Sports) खेलने वाले बच्चे जब घर आकर थका हुआ महसूस करते है तो यह उनके लिए चिंता जनक बात है क्योंकि उनके अंदर इतना Stamina नहीं होता है कि जिससे वे अपना घर का पूरा काम कर सके।

हमे यह पता लगाना चाहिए की ऐसे बच्चो या व्यक्तियों को उचित पोषण या व्यायाम मिल भी रहा है या नहीं।

क्योंकि आज कल की भागदौड़ और थकावट भरी जिंदगी में strength, energy और  stamina का पूर्णतः जरूरत है। क्यूंकि इन सब के बिना किसी भी काम को अच्छे से कर पाना नामुमकिन है।

स्टैमिना कम पाएं जाने के लक्षण (Symptoms Of Low Stamina in Hindi)

कुछ ऐसी छोटी-छोटी चीजे होती है जिनसे स्टैमिना कम होने के लक्षण दिखाई देते है। अगर आप भी जानना चाहते है स्टैमिना कम होने के लक्षण Symptoms Of Low Stamina in Hindi, तो नीचे दिए हुए कारणों से पता कर सकते है।

  • शारीरिक और मानसिक काम करते हुए थक जाना।
  • कोई भी कार्य किये बिना बॉडी से पसीना आना।
  • भूख न लगना या खाली पेट रहना।
  • दौड़ते,कूदते या खेलते समय जल्दी थक जाना।
  • हाथो और पैरो में दर्द (Pain)  होना।
  • ज्यादा नींद लेना और आलस में रहना।
  • आँखो के सामने धुंधलापन छा जाना और चककर आना।

स्टैमिना बढ़ाने के उपाय – how to increase stamina naturally in hindi

स्टैमिना बढ़ाने के उपाय - how to increase stamina naturally in hindi

Stamina badhane ke upay : स्टैमिना बढ़ाने के कई तरीके हैं। और इन तरीकों में आपको आवश्यक जोर देने की जरूरत नहीं है। यदि आप लगातार और नियमित रूप से स्टैमिना बढ़ाने की विधि का पालन करेंगे तो हम वादा करते हैं कि आप स्टैमिना को बढ़ाने में सक्षम होंगे।

तो चलिए जानते है स्टैमिना बढ़ाने के घरलू उपाय – Stamina badhane ke gharelu upay

नियमित रूप से एक्सरसाइज करें (exercise regularly)

अध्ययनों से पता चला है कि जिन लोगो के अंदर low stamina होता है वे काम के दौरान थकान का अनुभव करते है, लेकिन अध्ययनों में यह भी पाया है कि जो लोग लगातर और नियमित रूप से व्यायाम करते हैं, तो उनके स्टैमिना के स्तर में बढ़ोतरी हुई है।

लगभग 6 सप्ताह के बाद उन्होंने पाया है कि उनकी सहनशक्ति के साथ-साथ कार्य प्रदर्शन, नींद की गुणवत्ता और संज्ञानात्मक कौशल में काफी सुधार हुआ है। अपनी सहनशक्ति बढ़ाने के लिए सबसे अच्छे व्यायामों में से एक वजन उठाना है। हल्के वाले से शुरू करें और धीरे-धीरे सप्ताह दर सप्ताह वजन बढ़ाएं।

जब आप व्यायाम करते हैं, तो यह अधिक संभावना है कि आप थके हुए होने के बाद आराम करे, लेकिन यदि आप शरीर पर जोर देकर थोड़ा और व्यायाम करते हैं तो आप अपनी सहनशक्ति (स्टैमिना) में सुधार देखेंगे।

क्योंकि लगातार व्यायाम करने से स्टैमिना में सुधार के साथ-साथ आप अपने अंदर ऊर्जा का संचार भी देखेंगे।

हमने नीचे स्टैमिना बढ़ाने के लिए एक्सरसाइज का भी ज़िक्र किया है। उन्हें पढ़ना न भूलें।

और पढ़ें :- बॉडी का साइज बढ़ाने के 5 जबरदस्त उपाय – How To Gain Body Size In Hindi

संतुलित आहार का सेवन करें (eat a balanced diet)

स्टेमिना केवल शारीरिक रूप से सक्रिय होने के बारे में नहीं है, शारीरिक व्यायाम को सहजता से करने के लिए, आपके शरीर को खोई हुई ऊर्जा को फिर से भरने के लिए सही मात्रा में ऊर्जा की आवश्यकता होती है। और वह ऊर्जा हमे कार्बोहाइड्रेट, कम वसा, उच्च प्रोटीन और उच्च फाइबर से मिलती है।

एक्सरसाइज के बाद और सामान्य रूप से आपके पूरे दिन में निरंतर ऊर्जा के लिए एक संतुलित आहार की आवश्यकता होती  है। तला-भुना खाना और नशीले पदार्थों से बचते हुए आपको फल, सब्जियां, प्रोटीन और स्वस्थ वसा खाने के बारे में सोचना चाहिए।

हाँ कार्बोहाइड्रेट को खाने के बारे में मत भूलना। अध्ययनों से पता चला है कि एक्सरसाइज के कुछ घंटे पहले कार्बोहाइड्रेट खाने से ऊर्जा के स्तर में बढ़ोतरी होती है और एक्सरसाइज के प्रदर्शन में सुधार होता है।

चूंकि कार्ब्स हमारे शरीर के लिए ऊर्जा का स्रोत हैं, इसलिए साबुत अनाज, आलू और चावल जैसे खाद्य पदार्थ का सेवन किया जा सकता है।

हमने नीचे संतुलित आहार के बारे में विस्तार से बताया है उन्हें पढ़ना न भूले।

और पढ़ें :- Bodybuilding diet plan – साइज बढ़ाने के लिए बॉडीबिल्डिंग डाइट प्लान

हाइड्रेटेड रहें (stay hydrated)

डिहाइड्रेशन आपको कमजोर, थका हुआ और ऊर्जाहीन भी महसूस करा सकता है। अध्ययनों से पता चला है कि व्यायाम करने से पहले, उसके दौरान और बाद में ठीक से हाइड्रेटेड रहने से व्यायाम प्रदर्शन में सुधार आता है।

डिहाइड्रेशन से थकान के साथ-साथ चोटें लगने का भी खतरा बना रहता है। इसीलिए आपको दिन भर में हमेशा उचित मात्रा में पानी पीना चाहिए।

हालांकि, ध्यान रखें कि बहुत अधिक पानी पीने (ओवरहाइड्रेटिंग) के भी अपने नुकसान हैं। शोध से पता चलता है कि बहुत अधिक पानी पीने से शारीरिक प्रदर्शन खराब हो सकता है और तनाव का स्तर बढ़ सकता है।

आंशिक रूप से क्योंकि यह आपको बहुत भरा हुआ महसूस कराता है और आपको अधिक पेशाब करना पड़ता है।

स्टैमिना बढ़ाने के लिए पानी सबसे अच्छा दांव है। कुछ अध्ययनों से पता चला है कि स्पोर्ट्स ड्रिंक जिनमें शुगर की मात्रा कम होती है और इलेक्ट्रोलाइट्स होते हैं, एक्सरसाइज के प्रदर्शन को बढ़ा सकते हैं। और स्टैमिना बढ़ाने में भी मदद करते है।

और पढ़ें :- Top 10 Benefits Of Water – पानी पीने के फायदे

योग और ध्यान (Yoga and Meditation)

वास्तव में जब आप तनाव महसूस कर रहे होते हैं, तो आपकी सहनशक्ति (स्टेमिना) उतना अधिक नहीं होगा। क्योंकि लौ स्टैमिना की वजह से आप तनाव भी ज्यादा महसूस करेंगे। और लौ फील करेंगे।

इसीलिए यहाँ योग और ध्यान आते हैं – दोनों चिंता और तनाव के स्तर को कम करने में मदद कर सकते हैं, जो बदले में, आपको सहनशक्ति में सुधार करने और सहनशक्ति को बढ़ाने में मदद करते है।

जब आप अपनी जीवन शैली में योग और ध्यान का अभ्यास करना शुरू करते हैं, तो आपको योग के अविश्वसनीय लाभ दिखाई देंगे। यह आपके चयापचय को तेज करने, सहनशक्ति का निर्माण करने, वसा से छुटकारा दिलाने और आपको मजबूत बनाने का काम करेंगे।

इसके अलावा, यहां तक ​​कि अध्ययनों से भी पता चला है कि नियमित रूप से योग और ध्यान का अभ्यास करने से तनाव कम होता है, भाईचारे की भावना बढ़ती है, थकान कम होती है और सहनशक्ति में वृद्धि होती है।

और पढ़ें :- योग और प्राणायाम के बारे में

कैफीन का सेवन करें (Consume Caffeine)

कैफीन का सेवन व्यायाम प्रदर्शन में सुधार और ऊर्जा बढ़ाने के लिए किया जाता है। एक अध्ययन में पाया गया कि केवल पीने के पानी की तुलना में कैफीन और कार्ब्स के   कॉम्बिनेशन से शरीर में आश्चर्यजनक ऊर्जा का संचार होता है।

व्यायाम करने से पहले अपनी सहनशक्ति को बढ़ाने का यह एक शानदार तरीका है। इसके लिए आपको थोड़ी सी कैफीन का सेवन करना चाहिए। यह एक बेहतरीन प्री-वर्कआउट सप्लीमेंट के रूप में काम करता है, क्योंकि यह आपकी ऊर्जा के स्तर और शारीरिक प्रदर्शन को तेज करने में मदद करता है।

स्टेमिना बढ़ाने के लिए एक्सरसाइज (stamina badhane ki exercise)

stamina kaise badhaye in hindi

Body Ka Stamina Kaise Badhaye – स्टैमिना बढ़ाने के लिए आपको नियमित रूप से एक्सरसाइज करनी चाहिए। एक्सरसाइज न सिर्फ ऊर्जा बढ़ाने में मदद करेगा बल्कि कार्य को लम्बे समय तक करने की क्षमता भी प्रदान करेगा।

स्टैमिना कई दिनों या हफ्तों की कसरत से नहीं बढ़ता है बल्कि इसके लिए आपको निरंतर अभ्यास करने की जरूरत होती है। कसरत यानि एक्सरसाइज करने से न केवल Body ka Stamina में बढ़ोतरी होती है बल्कि यह immunity और strength में भी वृद्धि करता है। यहाँ तक की टेंशन और डिप्रेशन में सबसे अच्छा इलाज कसरत (exercise) है।

हम आपको यहां स्टैमिना बढ़ाने के लिए कुछ एक्सरसाइज (stamina badhane ke liye exercise) बताएंगे, जिन्हें आप अपनी डेली रूटीन में शामिल कर स्टैमिना जरूर बढ़ा पाएंगे।

पहले कुछ एरोबिक एक्सरसाइज के साथ शुरु करे। (Aerobic exercise to increase stamina in hindi)

ऐसी एरोबिक एक्सरसाइज चुने जिन्हे आप रेगुलर भी कर सकते है और उन एक्सरसाइज को करने के लिए आपके पास उपकरण (equipment) भी हो। एरोबिक एक्सरसाइज करने से एक तो आपका हृदय (Heart) भी स्वस्थ रहेगा और दूसरा आपका स्टैमिना भी बढ़ेगा।

Body ka Stamina Bdhane Ke Liye Exercise :-

  • साइकिलिंग
  • रनिंग
  • तैराकी
  • रस्सी कूदना

साइकिलिंग (Cycling)

स्टेमिना बढ़ाने के लिए साइकिलिंग सबसे अच्छा तरीका है। साइकिलिंग करने से एक तो आपके स्टेमिना में बढ़ोतरी होगी और दूसरा आप कम समय में ज्यादा कैलोरी भी जला पाएंगे।

आप कही पर भी चाहे जिम में या खुले वातावरण में साइकिलिंग कर सकते है।

रनिंग (Running)

अक्सर हमें यह पूछा जाता है की Running Stamina kaise Badhaye
तो इसके लिए आप दौड़ (Running) करे।  रनिंग में आप स्प्रिंटिंग या लम्बी दौड़े भी लगा सकते है लेकिन शर्त यह है कि इसे लभग 20 से 30 मिनट या उससे ज्यादा समय के लिए करे।

आप सुबह या शाम किसी भी समय रनिंग कर सकते है।

तैराकी (Swimming)

ओवरआल बॉडी की कसरत के लिए तैराकी एक राम-बाण इलाज है। तैराकी करने से एक तो स्टेमिना में बढ़ोतरी होती है और दूसरा यह आपकी लम्बाई (Height) को भी बढ़ाता है।

तैराकी को आप लगभग एक से डेढ़ घंटे का अभ्यास करे।

रस्सी कूदना (Skipping a Rope)

स्टेमिना बढ़ाने के लिए रस्सी जरूर कूदे। रस्सी कूदने से हृदय (Heart) बॉडी में ब्लड को जल्दी पंप करता है जिससे ओवरआल बॉडी में रक्त संचार अच्छे से होता है।

आप १० से १२ मिनट रस्सी कूदे। इसे आप लगातर या १ – १ मिनट के १० सेट्स लगाकर भी कूद सकते है।

इसके अतिरिक्त कुछ ओर एक्सरसाइज है जिन्हे आपको शामिल करना चाहिए। जैसे – वेट ट्रेनिंग

वेट ट्रेनिंग न  केवल आपके स्टेमिना को बढ़ाता है बल्कि मांसपेशिओं की ताकत, बोन डेंसिटी, मेटाबोलिज्म और लचीलेपन में भी सुधार करता है।

चेस्ट की वेट ट्रेनिंग करने के लिए यहां क्लिक करे
बैक की वेट ट्रेनिंग करने के लिए यहां क्लिक करे
बाइसेप्स की वेट ट्रेनिंग करने के लिए यहां क्लिक करे
ट्राइसेप्स की वेट ट्रेनिंग करने के लिए यहां क्लिक करे
लेग्स की वेट ट्रेनिंग करने के लिए यहां क्लिक करे
एब्स की वेट ट्रेनिंग करने के लिए यहां क्लिक करे

स्टेमिना बढ़ाने के लिए क्या खाये – Stamina Badhane wale Food (Stamina Enhancer Foods)

Fat Loss Diet Chart

Stamina badhane ke liye kya khayen : स्टेमिना बढ़ाने के लिए पौष्टिक आहार का सेवन करना बहुत ही जरूरी है। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि आप जिस भी चीज का सेवन कर रहे हैं उसमें उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स और फैट्स शामिल होने चाहिए।

इसके अलावा विटामिन-मिनरल्स, हरी पत्तेदार सब्जियां और फल का भी सेवन करे।  यह सभी खाने से स्टेमिना के साथ-साथ हृदय और रक्त संचार में बढ़ोतरी होती है।

आपके पोस्टिक आहार में कार्बोहाइड्रेट्स एनर्जी प्रदान कराएगा और प्रोटीन आपकी मांसपेशियों को सक्रिय बनाए रखने के लिए काम करेगा और साथ ही फैट्स ह्रदय से संबंधित रोगो और बीमारियों को दूर करने में आपकी सहायता करेगा।

स्टेमिना बढ़ाने वाले पोषक तत्व (Stamina enhancing nutrients)

संतुलित आहार (Balanced Diet) -स्टेमिना बढ़ाने के लिए संतुलित आहार (Balanced Diet) का सेवन करना बहुत ही जरूरी है। संतुलित आहार में जैसे –

  • प्रोटीन
  • कार्बोहाइड्रेट
  • फैट्स
  • विटामिन -मिनरल्स

प्रोटीन (Protein)

Protein उन पोषक तत्वों में से एक है जो स्टेमिना बढ़ाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है। शरीर में मांसपेशियों के  निर्माण और विकास के लिए प्रोटीन सबसे महत्वपूर्ण (Important) तत्व है।

प्रोटीन के स्त्रोत (Sources of protein)

  • पनीर
  • टोफू
  • अंडा
  • चिकन
  • डेयरी प्रोडक्ट्स

इत्यादि।

कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrate)

स्टेमिना बढ़ाने के लिए साबुत अनाज वास्तव में बेहतरीन पोषक तत्व में से एक है। क्यूंकि कार्बोहाइड्रेट शरीर को ऊर्जा देता है।

कार्बोहाइड्रेट के स्त्रोत (Sources of Carbohydrate)

  • चपाती
  • शकरकंदी
  • आलू
  • ब्राउन राइस
  • ब्राउन ब्रेड
  • ओट्स

इत्यादि।

फैट्स (Fats)

स्टेमिना बढ़ाने के लिए फैट्स उच्तम आहार कारको  में से एक है। फैट्स ह्रदय से संबंधित रोगो और बीमारियों को दूर करने में मदद करता है।

फैट्स के स्त्रोत (Sources of Fats)

  • बादाम
  • अखरोट
  • ओलिव आयल
  • कोकोनट आयल
  • टूना मछली

इत्यादि।

विटामिन -मिनरल्स (Vitamin-Minerals)

स्टेमिना बढ़ाने के लिए विटामिन -मिनरल्स बहुत ही महत्वपूर्ण है।  इसमें आपको उच्तम गुणवत्ता वाले फाइबर मिलते है जो आपकी स्टेमिना बढ़ाने में मदद करेगा और आपके मेटाबोलिज्म को मजबूत बनाएगा।

विटामिन-मिनरल्स के स्त्रोत (Sources of Vitamin-Minerals)

  • फल
  • हरी पत्तेदार सब्जियां
  • सलाद

इत्यादि।

और पढ़ें :- वजन बढ़ाने के लिए डाइट चार्ट (Mote Hone Ka Diet Plan)

स्टेमिना बढ़ाने के लिए करें आराम (Relax to increase stamina in Hindi)

जैसा की आपने ऊपर स्टैमिना बढ़ाने के लिए एक्सरसाइज और डाइट को जाना, वहीं इनके साथ ही एक और महत्वपूर्ण चीज़ है वो है नींद। नींद उतनी ही आवश्यक है जितनी की एक्सरसाइज और हैल्थी डाइट।

नेशनल स्लीप फाउंडेशन का भी यहीं कहना है कि किसी भी व्यक्ति के लिए पर्याप्त मात्रा में नींद लेना बहुत ही महत्वपूर्ण है क्यूंकि नींद भी स्टेमिना बढ़ाने में मदद करता है।

नींद आपके शरीर और मस्तिष्क को आपकी गतिविधयों के माध्यम से शक्ति देने के लिए जरुरी मानी जाती है इसलिए नींद आपके लिए महत्वपूर्ण चीज़ है। तो इसका अर्थ ये नहीं है की आप हर टाइम सोते रहें।

प्रत्येक उम्र के लिए इसका टाइम अलग-अलग होता है सामान्य तोर पर सात से नौ घंटे की नींद हमारे जैसे सामान्य व्यक्तियों को लेनी चाहिए। यदि आप छह  या उससे कम घंटे की नींद लेते है तो यह आपके शरीर में ऊर्जा की कमी कर सकता है।

अच्छी नींद लेने से शरीर के साथ-साथ मस्तिष्क को भी आराम मिलता है और मस्तिष्क को आराम देना उतना ही आवश्यक है जितना की बॉडी को।

तो अच्छी नींद, अच्छा व्यायाम और अच्छी डाइट से आप गारंटी के साथ स्टेमिना को बढ़ा पाएंगे।

और पढ़ें :- How To Lose Belly Fat In Hindi – इन 10 टिप्स को फॉलो करें

स्टेमिना बढ़ाने के लिए कुछ अन्य बातें : Other Tips To Increase Stamina in Hindi

  • रोजाना एक्सरसाइज करने के लिए खुद को मानसिक रूप से मजबूत बनायें।
  • प्रतिदिन 8 से 9 घंटे की नींद अवश्य ले, शरीर और दिमाग को शांत रखें।
  • शुरुआती समय में हल्के व्यायाम के साथ शुरू करें, समय बीतने के साथ इसमें बढ़ोतरी करें।
  • एक्सरसाइज या वेट ट्रेनिंग करते समय लगातार पानी पीते रहें, बॉडी को हाइड्रेट रखें। ध्यान रखें की एक साथ पूरा पानी न पिए, थोड़ा-थोड़ा करके पानी का सेवन करे।
  • कभी भी ज्यादा वजन उठाने की कोशिश न करें, धीरे-धीरे अपनी क्षमता के अनुसार वजन उठाएं।
  • रोजाना शाम के खाने के बाद जरूर टहलने जाए।

सावधानी बरते :-

  • कोई भी व्यायाम करने से पहले कुछ भी न खाएं, व्यायाम से लगभग 1 से 2 घंटे पहले खाएं।
  • रनिंग या साइकिलिंग करते समय जूतों का इस्तेमाल करें।
  • रनिंग या साइकिलिंग करते समय एक साथ लंबी दूरी तय न करें।
  • फास्ट फूड जैसी तली-भुनी चीजों का सेवन न करें, धूम्रपान और शराब के सेवन से बचें।
  • एक्सरसाइज या वेट ट्रेनिंग के बाद मांसपेशियों को रिलैक्स जरूर करें।

और पढ़ें :- 15 Saal Ke Baccho Ki Height Kaise Badhaye – बच्चो की हाइट कैसे बढ़ाये

और पढ़ें :- बॉडी बनाने के लिए टॉप 5 बेस्ट कैप्सूल

निष्कर्ष – Conclusion

आशा करता हूँ की अब आप stamina ko kaise badhaye जान गए होंगे। अगर आपको apna stamina kaise badhaye से संबंधित सही जानकारियां हासिल करना चाहते है तो एक बार हमारे लेख को पढ़ें।
अगर आपको sarir me stamina kaise badhaye in hindi के लेख से संबंधित कोई सवाल या सुझाव है तो हमे कमेंट के जरिये जरूर बताएं।

और पढ़ें :- हेल्थ की श्रेणी के बारे में

2 thoughts on “स्टैमिना कैसे बढ़ाये – स्टेमिना बढ़ाने के आसान तरीके – Stamina Kaise Badhaye”

  1. Pingback: बॉडी बनाने के लिए टॉप 5 बेस्ट कैप्सूल | हिंदी में (NeerFit)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *