स्टैमिना कैसे बढ़ाये – स्टैमिना बढ़ाने के आसान तरीके

स्टैमिना कैसे बढ़ाये – स्टैमिना बढ़ाने के आसान तरीके
Spread the love

Stamina Kaise Badhaye in Hindi

कामकाजी महिलाएं,दफ्तर जाने वाले पुरुष या खेल (Sports) खेलने वाले बच्चे हर किसी को शक्ति की जरूरत होती है और यह शक्ति हमे स्टैमिना (Stamina)से मिलती है। 

अक्सर हमे यह सुनने को मिलता है की थोड़े समय में ही थकान महसूस होना  या कुछ दूर दौड़ने या चलने में साँस फूल जाना यानि कुछ छोटे-छोटे कामो में ही शरीर जवाब दे जाता है।

ऐसे हजारो सवाल हमे रोज सुनने को मिलते है। यदि ऐसा आपके साथ भी होता है तो इसके लिए आप तैयार हो जाये, क्योंकि यह आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। 

ऐसा क्यों होता है ?

तो इसका मुख्य कारण शरीर में ऊर्जा या स्टैमिना की कमी होती है। क्योंकि स्टेमिना ही किसी कार्य को निश्चित तीव्रता या लम्बे समय तक करने की क्षमता प्रदान करता है। 

तो इसी के आधार को देखते हुए आगे हमने बताया है – Stamina Kaise Badhaye, स्टैमिना क्या है ,स्टैमिना कम होने के लक्षण, स्टैमिना बढ़ाने वाली एक्सरसाइज, स्टैमिना बढ़ाने वाले फ़ूड (stamina badhane wale Food), स्टैमिना बढ़ाने के लिए आराम और कुछ जरूरी बातें।

स्टेमिना क्या है ? (What is stamina)

स्टैमिना का अर्थ होता है आंतरिक शक्ति। यानि साधारण भाषा में किसी व्यक्ति के द्वारा कोई भी कार्य बिना किसी थकावट के लम्बे समय तक जारी रखना स्टैमिना कहलाता है। चाहे वो कार्य मानसिक रूप से हो या शारीरिक रूप से। 

आमतौर पर स्टैमिना शब्द सुनते ही इसे केवल शारीरिक खेलो से जोड़कर देखा जाता है लेकिन देखा जाये तो यह हमारे छोटे-छोटे-कामो जैसे पैदल चलना हो या दौड़ना , घर का काम हो या ऑफिस का सभी में ही स्टेमिना का अपना ही महत्व होता है। 

देखा जाए तो यह खिलाड़ियों के लिए सबसे बड़ी पूंजी की तरह है, जितना अधिक स्टैमिना है, उतना ही खेल में ध्यान अधिक दिया जायेगा।

खेलकूद में तो इसका अपना ही महत्व है लेकिन साथ ही यह बीमारियों और तनाव से लड़ने में भी ही मददगार है। 

जैसा हम देखते है की कामकाजी महिलाएं,दफ्तर जाने वाले पुरुष या खेल (Sports) खेलने वाले बच्चे जब घर आकर थका हुआ महसूस करते है तो यह उनके लिए चिंता जनक बात है क्योंकि उनके अंदर इतना Stamina नहीं होता है कि जिससे वे अपना पूरा काम कर सके। 

हमे यह पता लगाना चाहिए की ऐसे बच्चो या व्यक्तियों को उचित पोषण या व्यायाम मिल भी रहा है या नहीं। 

क्योंकि आज कल की भागदौड़ और थकावट भरी जिंदगी में strength, energy और  stamina का पूर्णतः जरूरत है। क्यूंकि इन सब के बिना किसी भी काम को अच्छे से कर पाना नामुमकिन है।

स्टैमिना कम पाएं जाने के लक्षण (Symptoms Of Low Stamina)

कुछ ऐसी छोटी-छोटी चीजे होती है जिनसे स्टैमिना कम होने के लक्षण दिखाई देते है। अगर आप भी जानना चाहते है स्टैमिना कम होने के लक्षण Symptoms Of Low Stamina तो निचे दिए हुए कारणों से पता कर सकते है। 

  • शारीरिक और मानसिक काम करते हुए थक जाना।
  • कोई भी कार्य किये बिना बॉडी से पसीना आना।
  • भूख न लगना या खाली पेट रहना।
  • दौड़ते,कूदते या खेलते समय जल्दी थक जाना।
  • हाथो और पैरो में दर्द (Pain)  होना।
  • ज्यादा नींद लेना और आलस में रहना।
  • आँखो के सामने धुंधलापन छा जाना और चककर आना। 

स्टेमिना बढ़ाने वाली एक्सरसाइज (Stamina enhancer exercise)

stamina kaise badhaye in hindi

Body Ka Stamina Kaise Badhaye – स्टैमिना बढ़ाने के लिए आपको नियमित रूप से एक्सरसाइज करनी चाहिए। एक्सरसाइज न सिर्फ ऊर्जा बढ़ाने में मदद करेगा बल्कि कार्य को लम्बे समय तक करने की क्षमता भी प्रदान करेगा। 

स्टैमिना कोई दिनों या हफ्तों की कसरत से नहीं बढ़ता है उसके लिए आपको निरंतर अभ्यास करना ही पड़ता है। कसरत यानि एक्सरसाइज करने से न केवल Body ka Stamina में बढ़ोतरी होती है बल्कि यह immunity और strength में भी वृद्धि करता है। यहाँ तक की टेंशन और डिप्रेशन में सबसे अच्छा इलाज कसरत (exercise) है। 

हम आपको यहाँ स्टैमिना बढ़ाने के लिए कुछ एक्सरसाइज बताएंगे जिन्हे आप अपने डेली रूटीन में शामिल करके अवश्य ही स्टैमिना बढ़ा लेंगे।

पहले कुछ एरोबिक एक्सरसाइज के साथ शुरु करे। (Aerobic exercise to increase stamina)

ऐसी एरोबिक एक्सरसाइज चुने जिन्हे आप रेगुलर भी कर सकते है और उन एक्सरसाइज को करने के लिए आपके पास उपकरण (equipment) भी हो। एरोबिक एक्सरसाइज करने से एक तो आपका हृदय (Heart) भी स्वस्थ रहेगा और दूसरा आपका स्टैमिना भी बढ़ेगा। 

Body ka Stamina Bdhane Ke Liye Exercise :-

  • साइकिलिंग
  • रनिंग
  • तैराकी
  • रस्सी कूदना

साइकिलिंग (Cycling)

स्टेमिना बढ़ाने के लिए साइकिलिंग सबसे अच्छा तरीका है। साइकिलिंग करने से एक तो आपके स्टेमिना में बढ़ोतरी होगी और दूसरा आप कम समय में ज्यादा कैलोरी भी जला पाएंगे।

आप कही पर भी चाहे जिम में या खुले वातावरण में साइकिलिंग कर सकते है।  

रनिंग (Running)

अक्सर हमें यह पूछा जाता है की Running Stamina kaise Badhaye
तो इसके लिए आप दौड़ (Running) करे।  रनिंग में आप स्प्रिंटिंग या लम्बी दौड़े भी लगा सकते है लेकिन शर्त यह है कि इसे लभग 20 से 30 मिनट या उससे ज्यादा समय के लिए करे। 

आप सुबह या शाम किसी भी समय रनिंग कर सकते है। 

तैराकी (Swimming)

ओवरआल बॉडी की कसरत के लिए तैराकी एक राम-बाण इलाज है। तैराकी करने से एक तो स्टेमिना में बढ़ोतरी होती है और दूसरा यह आपकी लम्बाई (Height) को भी बढ़ाता है। 

तैराकी को आप लगभग एक से डेढ़ घंटे का अभ्यास करे। 

रस्सी कूदना (Skipping a Rope)

स्टेमिना बढ़ाने के लिए रस्सी जरूर कूदे। रस्सी कूदने से हृदय (Heart) बॉडी में ब्लड को जल्दी पंप करता है जिससे ओवरआल बॉडी में रक्त संचार अच्छे से होता है। 

आप १० से १२ मिनट रस्सी कूदे। इसे आप लगातर या १ – १ मिनट के १० सेट्स लगाकर भी कूद सकते है। 

इसके अतिरिक्त कुछ ओर  एक्सरसाइज है जिन्हे आपको शामिल करना चाहिए। जैसे – वेट ट्रेनिंग

वेट ट्रेनिंग न  केवल आपके स्टेमिना को बढ़ाता है बल्कि मांसपेशिओं की ताकत, बोन डेंसिटी, मेटाबोलिज्म और लचीलेपन में भी सुधार करता है।

Stamina Badhane wale Food (Stamina Enhancer Foods)

Fat Loss Diet Chart

स्टेमिना बढ़ाने के लिए पौष्टिक आहार का सेवन करना बहुत ही जरूरी है। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि आप जिस भी चीज का सेवन कर रहे हैं उसमें उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट्स और फैट्स शामिल होने चाहिए। 

इसके अलावा विटामिन-मिनरल्स, हरी पत्तेदार सब्जियां और फल का भी सेवन करे।  यह सभी खाने से स्टेमिना के साथ-साथ हृदय और रक्त संचार में बढ़ोतरी होती है। 

आपके पोस्टिक आहार में कार्बोहाइड्रेट्स एनर्जी प्रदान कराएगा और प्रोटीन आपकी मांसपेशियों को सक्रिय बनाए रखने के लिए काम करेगा और साथ ही फैट्स ह्रदय से संबंधित रोगो और बीमारियों को दूर करने में आपकी सहायता करेगा।

आपके पोस्टिक आहार में कार्बोहाइड्रेट्स एनर्जी प्रदान कराएगा और प्रोटीन आपकी मांसपेशियों को सक्रिय बनाए रखने के लिए काम करेगा और साथ ही फैट्स ह्रदय से संबंधित रोगो और बीमारियों को दूर करने में आपकी सहायता करेगा।

स्टेमिना बढ़ाने वाले पोषक तत्व (Stamina enhancing nutrients)

संतुलित आहार (Balanced Diet) -स्टेमिना बढ़ाने के लिए संतुलित आहार (Balanced Diet) का सेवन करना बहुत ही जरूरी है। संतुलित आहार में जैसे –

  • प्रोटीन
  • कार्बोहाइड्रेट
  • फैट्स
  • विटामिन -मिनरल्स

प्रोटीन (Protein)

प्रोटीन उन पोषक तत्वों में से एक है जो स्टेमिना बढ़ाने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है। शरीर में मांसपेशियों के  निर्माण और विकास के लिए प्रोटीन सबसे महत्वपूर्ण (Important) तत्व है।

प्रोटीन के स्त्रोत (Sources of protein)

  • पनीर
  • टोफू
  • अंडा
  • चिकन
  • डेयरी प्रोडक्ट्स

इत्यादि।

कार्बोहाइड्रेट (Carbohydrate)

स्टेमिना बढ़ाने के लिए साबुत अनाज वास्तव में बेहतरीन पोषक तत्व में से एक है। क्यूंकि कार्बोहाइड्रेट शरीर को ऊर्जा देता है। 

कार्बोहाइड्रेट के स्त्रोत (Sources of Carbohydrate)

  • चपाती
  • शकरकंदी
  • आलू
  • ब्राउन राइस
  • ब्राउन ब्रेड
  • ओट्स

इत्यादि।

फैट्स (Fats)

स्टेमिना बढ़ाने के लिए फैट्स उच्तम आहार कारको  में से एक है। फैट्स ह्रदय से संबंधित रोगो और बीमारियों को दूर करने में मदद करता है।

फैट्स के स्त्रोत (Sources of Fats)

  • बादाम
  • अखरोट
  • ओलिव आयल
  • कोकोनट आयल
  • टूना मछली 

इत्यादि।

विटामिन -मिनरल्स (Vitamin-Minerals)

स्टेमिना बढ़ाने के लिए विटामिन -मिनरल्स बहुत ही महत्वपूर्ण है।  इसमें आपको उच्तम गुणवत्ता वाले फाइबर मिलते है जो आपकी स्टेमिना बढ़ाने में मदद करेगा और आपके मेटाबोलिज्म को मजबूत बनाएगा।  

विटामिन-मिनरल्स के स्त्रोत (Sources of Vitamin-Minerals)

  • फल
  • हरी पत्तेदार सब्जियां
  • सलाद

इत्यादि।

स्टेमिना बढ़ाने के लिए करें आराम (Relax to increase stamina)

जैसा की आपने ऊपर स्टैमिना बढ़ाने के लिए एक्सरसाइज और डाइट को जाना है वहीं इनके साथ ही एक और महत्वपूर्ण चीज़ है वो है नींद। नींद उतनी ही आवश्यक है जितनी की एक्सरसाइज और हैल्थी डाइट। 

नेशनल स्लीप फाउंडेशन का भी यहीं कहना है कि किसी भी व्यक्ति के लिए पर्याप्त मात्रा में नींद लेना बहुत ही महत्वपूर्ण है क्यूंकि नींद भी स्टेमिना बढ़ाने में मदद करता है।

नींद आपके शरीर और मस्तिष्क को आपकी गतिविधयों के माध्यम से शक्ति देने के लिए जरुरी मानी जाती है इसलिए नींद आपके लिए महत्वपूर्ण चीज़ है। तो इसका अर्थ ये नहीं है की आप हर टाइम सोते रहें।

प्रत्येक उम्र के लिए इसका टाइम अलग-अलग होता है सामान्य तोर पर सात से नौ घंटे की नींद हमारे जैसे सामान्य  व्यक्तियों को लेनी चाहिए।  यदि आप छह  या उससे  कम घंटे की नींद लेते है तो यह आपके शरीर में ऊर्जा की कमी कर सकता है। 

अच्छी नींद लेने से शरीर के साथ-साथ मस्तिष्क को भी आराम मिलता है और मस्तिष्क को आराम देना उतना ही आवश्यक है जितना की बॉडी को। 

तो अच्छी नींद , अच्छा व्यायाम और अच्छी डाइट से आप गारंटी के साथ स्टेमिना को बढ़ा लेंगे। 

स्टेमिना बढ़ाने के लिए कुछ जरूरी बातें :-

  • रोजाना एक्सरसाइज करने के लिए खुद को मानसिक रूप से मजबूत बनायें।
  • प्रतिदिन 8 से 9 घंटे की नींद अवश्य ले, शरीर और दिमाग को शांत रखें।
  • शुरुआती समय में हल्के व्यायाम के साथ शुरू करें, समय बीतने के साथ इसमें बढ़ोतरी करें।
  • एक्सरसाइज या वेट ट्रेनिंग करते समय लगातार पानी पीते रहें, बॉडी को हाइड्रेट रखें। ध्यान रखें की एक साथ पूरा पानी न पिए, थोड़ा-थोड़ा करके पानी का सेवन करे।
  • कभी भी ज्यादा वजन उठाने की कोशिश न करें, धीरे-धीरे अपनी क्षमता के अनुसार वजन उठाएं।
  • रोजाना शाम के खाने के बाद जरूर टहलने जाए।

सावधानी बरते :-

  • कोई भी व्यायाम करने से पहले कुछ भी न खाएं, व्यायाम से लगभग 1 से 2 घंटे पहले खाएं।
  • रनिंग या साइकिलिंग करते समय जूतों का इस्तेमाल करें।
  • रनिंग या साइकिलिंग करते समय एक साथ लंबी दूरी तय न करें।
  • फास्ट फूड जैसी तली-भुनी चीजों का सेवन न करें, धूम्रपान और शराब के सेवन से बचें।
  • एक्सरसाइज या वेट ट्रेनिंग के बाद मांसपेशियों को रिलैक्स जरूर करें।

Spread the love

This Post Has One Comment

Leave a Reply