Skin Shine Cream Uses in Hindi : स्किनशाइन क्रीम के फायदे, नुकसान, खुराक और सावधानियां

Skin Shine Cream Uses In Hindi

Skin shine cream uses in hindi : स्किनशाइन क्रीम एक त्वचा संबंधी क्रीम है जिसका उपयोग मुख्य रूप से मेलाज्मा (त्वचा पर गहरे भूरे रंग के धब्बे) के इलाज के लिए किया जाता है। यह एक आम त्वचा की स्थिति है जो चेहरे पर भूरे रंग के धब्बे का कारण बनती है। यह पुरुषों की तुलना में महिलाओं में अधिक आम है।

झाइयां, फुंसी, दाग-धब्बे, कालापन और चेहरे की एलर्जी को दूर करने के लिए भी यह क्रीम उपयोगी मानी जाती है। यह क्रीम त्वचा को चमकदार बनाती है और त्वचा पर पैच, सूजन और जलन पैदा करने वाले रसायनों की क्रिया को कम करती है।

डॉक्टर द्वारा बताई गई मात्रा और अवधि में ही स्किनशाइन क्रीम का इस्तेमाल करना चाहिए। इस क्रीम का उपयोग करने से पहले अपने हाथ धोएं, निर्देशों का पालन करें और क्रीम के लेबल की जांच करें। यह केवल बाह्य उपयोग के लिए है।

आगे पढ़ें : स्किन शाइन क्रीम का उपयोग, फायदे, नुकसान और सावधानियां

स्किन शाइन क्रीम के बारे में बताइए? – skin shine cream in hindi

स्किनशाइन क्रीम ऐसी क्रीम है, जिसमें ट्रेटिनोइन, हाइड्रोक्विनोन और मोमैटासोन शामिल हैं। इसका उपयोग मेलोस्मा झाइयां, फुंसी, दाग-धब्बे, कालापन और चेहरे की एलर्जी के इलाज के लिए किया जाता है। यह क्रीम त्वचा को प्रेरित करती है और रसायनों की क्रिया को कम करती है।

लंबे समय तक स्किन शाइन क्रीम का प्रयोग न करें जब तक कि आपका डॉक्टर इसकी सलहा न दें। क्योंकि इसमें स्टेरॉयड होता है। जो त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही इस क्रीम का उपयोग करें।

सावधान रहें कि इस क्रीम का उपयोग करने के तुरंत बाद धूप में न निकलें, क्योंकि इसके दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते हैं, लेकिन वे आमतौर पर समय के साथ दूर हो जाते हैं।

और पढ़ें : ऑयली स्किन से छुटकारा दिलाते हैं ये घरेलू उपाय (Oily Skin Care Tips In Hindi)

स्किन शाइन क्रीम का उपयोग – skin shine cream uses in hindi

स्किनशाइन क्रीम का उपयोग लोग अपने मुंहासों, काले धब्बों, कालेपन और चेहरे की एलर्जी के इलाज के लिए करते हैं। कुछ लोग गोरा होने के लिए इस भी क्रीम का इस्तेमाल करते हैं। आइए जानते हैं इसके कुछ उपयोग।

  • skin shine cream का इस्तेमाल मध्यम से गंभीर मेलाज्मा (त्वचा पर काले और फीके पड़ चुके धब्बे) के इलाज में किया जाता है।
  • इसका उपयोग त्वचा की टोन या उपस्थिति को हल्का करने के लिए भी किया जाता है, खासकर जब एक डार्क पिगमेंटेशन हो।
  • यह दवा केवल बाहरी उपयोग के लिए है। अपने डॉक्टर द्वारा सलाह के अनुसार इसे खुराक और अवधि में प्रयोग करें। उपयोग करने से पहले निर्देशों के लिए लेबल की जाँच करें। प्रभावित क्षेत्र को साफ करके सुखा लें और क्रीम लगाएं।
  • इस क्रीम की एक पतली परत अपनी त्वचा के प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं। 
  • नाक, मुंह, आंख, कान या योनि के संपर्क में आने से बचें। कटे, खुले घाव या जले हुए त्वचा क्षेत्र पर न लगाएं। यदि स्किनशाइन क्रीम  गलती से इन क्षेत्रों के संपर्क में आता है, तो तुरंत पानी से धों लें।

और पढ़ें : चेहरे पर पिंपल्स को कैसे दूर करे – बस फॉलो करें 5 आसान टिप्स

स्किन शाइन क्रीम कैसे लगाएं?

  • स्किनशाइन क्रीम केवल बाहरी उपयोग के लिए है। इसे लगाने से पहले प्रभावित हिस्से को साफ करके सुखा लें। फिर थोड़ी सी क्रीम लें और उंगलियों की मदद से इसे प्रभावित जगह पर लगाएं।
  • क्रीम लगाने के बाद धूप में बाहर न जाएं, क्योंकि त्वचा धूप के प्रति संवेदनशील होती है, इसलिए अपनी त्वचा की सुरक्षा के लिए सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें।
  • आपकी स्थिति में सुधार होने में कुछ दिन या सप्ताह लग सकते हैं। इसलिए, यह अनुशंसा की जाती है कि आप इस क्रीम के साथ पूरे उपचार को निर्धारित अनुसार पूरा करें।

स्किन शाइन क्रीम कैसे काम करती है?

स्किनशाइन क्रीम तीन दवाओं हाइड्रोक्विनोन, मोमेटासोन और ट्रेटिनॉइन से मिलकर बनी है। जो मेलास्मा (त्वचा पर काले धब्बे) जैसी बीमारियों को ठीक करने का काम करता है।

हाइड्रोक्विनोन, मोमेटासोन और ट्रेटिनॉइन त्वचा पर इस तरह से काम करता है –

  • हाइड्रोक्विनोन त्वचा को गोरा करने वाली क्रीम है। यह त्वचा के रंगद्रव्य (मेलेनिन) की मात्रा को कम करता है जो त्वचा को काला होने से बचाता है।
  • मोमेटासोन एक स्टेरॉयड है जो त्वचा को लाल, सूजे हुए और खुजली करने वाले केमिकल मैसेंजर (प्रोस्टाग्लैंडीन) को बनने से रोकता है।
  • टिनटिन विटामिन ए का एक रूप है जो त्वचा को और अधिक तेज़ी से नवीनीकृत और चमकदार बनाने में मदद करता है।

और पढ़ें : टाइगर किंग क्रीम के फायदे, उपयोग और खुराक – Tiger King Cream Uses In Hindi

स्किनशाइन क्रीम की खुराक – Dosage of Skin Shine Cream Hindi

स्किनशाइन क्रीम एक नाइट क्रीम है जिसे रात को सोने से पहले लगाया जाता है। ज्यादातर महिलाएं इसे दिन के समय लगाती हैं जो कि गलत है। इस क्रीम को रात को सोने से पहले लगाएं। क्योंकि अगर आप इसे दिन में लगाते हैं तो यह क्रीम सूरज की रोशनी के प्रति संवेदनशील होती है। इसलिए रात को सोने से पहले इसे कुछ मात्रा में ही लगाएं।

अगर आप गर्भवती हैं या स्तनपान करा रही हैं तो स्किनशाइन क्रीम का इस्तेमाल अपने डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही करें। यह 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के लिए अनुशंसित नहीं है। यदि तीन सप्ताह के उपचार के बाद भी आपकी स्थिति में सुधार नहीं होता है तो अपने नजदीकी चिकित्सक को बताएं।

कीमत : Skin shine night Cream Price

झाइयां, फुंसी, दाग-धब्बे, कालापन और चेहरे की एलर्जी को दूर करने के लिए यह क्रीम कारगर है। इसलिए महिलाएं जानना चाहती हैं कि स्किन शाइन क्रीम की कीमत कितनी है।

यह क्रीम 150 से 200 रुपये की रेंज में आती है। इसकी कीमत कंपनी और विक्रेता पर निर्भर करती है लेकिन सामान्य तौर पर इसकी कीमत कुछ इस तरह होती है।

फायदे : skin shine cream ke fayde

स्किन शाइन क्रीम के निम्नलिखित फायदे हैं। आइए जानते हैं skin shine cream benefits in hindi

मेलाज्मा के इलाज के लिए :  मेलाज्मा त्वचा पर काले और फीके पड़ चुके धब्बे, झाइयां, फुंसी, कालापन और चेहरे की एलर्जी का कारण बनता है। यह पुरुषों की तुलना में महिलाओं में अधिक देखी जाती है। स्किनशाइन क्रीम इन काले धब्बों, झाईयों, फुंसियों, कालेपन और चेहरे की एलर्जी को दूर करने में मदद करती है जो आमतौर पर गर्भावस्था, गर्भनिरोधक गोलियों, हार्मोन की दवा या त्वचा की चोट के कारण होते हैं।

यह त्वचा में उस प्रक्रिया को प्रभावी ढंग से रोकता है जो इन सभी समस्याओं का कारण बनती है। स्किनशाइन क्रीम इस स्थिति में होने वाली किसी भी लालिमा, दाने, दर्द या खुजली को भी कम करता है।

स्किनशाइन क्रीम के नुकसान – Skin Shine Cream side effects in hindi

Skin Shine Cream Side Effects In Hindi

Skin Shine Cream लगाने के स्थान पर लालिमा, खुजली, लाल धब्बे या जलन जैसे कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं। इसीलिए अपने नजदीकी चिकित्सक परामर्श से ही इसका उपयोग करें। इस बात का ध्यान रखें की इस क्रीम का उपयोग करते समय आपको सांस लेने में कठिनाई जैसी किसी भी समस्या का अनुभव करना पड़ सकता है इसीलिए तुरंत इस दवा का उपयोग करना बंद कर दें।

स्किनशाइन क्रीम केवल बाहरी उपयोग के लिए है। आवेदन से पहले प्रभावित क्षेत्र को साफ और सूखा लें। इस दवा की एक पतली परत अपनी त्वचा के प्रभावित क्षेत्रों पर लगाएं। अपनी आंखों, नाक और मुंह के संपर्क से बचें। इन क्षेत्रों के साथ आकस्मिक संपर्क के मामले में, तुरंत पानी से धो लें।

आइये जानते है कुछ और Skin Shine Cream ke nuksan

आवेदन स्थल पर जलन या चुभन महसूस होना

  • खुजली और शुष्क त्वचा
  •  त्वचा पर सूजन
  • त्वचा पर लाल चकत्ते
  • त्वचा पर लाल धब्बे
  • त्वचा का छिलना और फफोला होना
  • त्वचा की प्रकाश संवेदनशीलता

और पढ़ें : Hempushpa Syrup Uses In Hindi – हेमपुष्पा सिरप के फायदे, उपयोग और खुराक

Skinshine Cream का इस्तेमाल करने से पहले रखें ये सावधानियां

  • यदि आपको स्किन शाइन क्रीम ग्राम या किसी अन्य दवा से एलर्जी है तो कृपया अपने चिकित्सक को बताएं।
  • यदि आप गर्भवती हैं, स्तनपान कराती हैं या गर्भावस्था की योजना बना रही हैं, तो स्किन शाइन क्रीम का उपयोग करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।
  • 12 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए स्किन शाइन क्रीम की सलाह नहीं दी जाती है।
  • त्वचा के छाले या घावों पर स्किन शाइन क्रीम न लगाएं।
  • स्किनशाइन क्रीम का उपयोग करते समय धूप में निकलने से बचें क्योंकि यह त्वचा को धूप के प्रति  संवेदनशील बना सकती है और सनबर्न का कारण भी बन सकती है।
  • अपनी त्वचा को सनबर्न से बचाने के लिए बाहर जाते समय सुरक्षात्मक कपड़े पहनें और सनस्क्रीन का उपयोग करें।
  • जब तक आपके डॉक्टर द्वारा सलाह न दी जाए, तब तक प्रभावित क्षेत्र को पट्टी से न ढकें या न लपेटें।
  • धूम्रपान या नग्न लपटों के पास रहने से बचें क्योंकि स्किन शाइन क्रीम के संपर्क में आने वाले कपड़े आग पकड़ लेते हैं और आसानी से जल जाते हैं।
  • यदि आपको सल्फाइट्स, अस्थमा, रोसैसिया, लाल चेहरा, छोटे, मवाद से भरे दाने, मुंहासे, त्वचा का पतला होना, पेरियोरल डर्मेटाइटिस (मुंह के आसपास की त्वचा की लालिमा और सूजन), जननांग खुजली, चिकनपॉक्स, सर्दी, खुजली वाली त्वचा, मस्से, दाद है तो क्रीम का इस्तेमाल न करें।

और पढ़ें : Sildenafil Tablet Uses In Hindi– सिल्डेनाफिल टैबलेट का उपयोग, खुराक और नुकसान

निष्कर्ष – Skin Shine Cream Uses In Hindi

मेलास्मा त्वचा की एक सामान्य स्थिति है जो चेहरे पर भूरे धब्बे का कारण बनती है। यह रोग ज्यादातर माथे, ठुड्डी, नाक और गालों पर होता है। मेलास्मा सूरज के संपर्क में आने, हार्मोन थेरेपी, गर्भावस्था, गर्भनिरोधक गोलियां, थायराइड या यहां तक कि तनाव के कारण भी हो सकता है। यह पुरुषों की तुलना में महिलाओं में अधिक आम है। यह गर्भवती महिलाओं में गर्भावस्था के दौरान हार्मोनल परिवर्तन के कारण भी हो सकता है। इसका इलाज स्किन लाइटनिंग क्रीम, टॉपिकल स्टेरॉयड और स्किन शाइन क्रीम की मदद से किया जा सकता है।

ध्यान रखें कि इस क्रीम का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें। आपको हमारा यह लेख कैसा लगा हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं

और पढ़ें : टॉप 5 बेस्ट सैक्स Power Capsule Patanjali

3 thoughts on “Skin Shine Cream Uses in Hindi : स्किनशाइन क्रीम के फायदे, नुकसान, खुराक और सावधानियां”

  1. Pingback: टाइम बढ़ाने की मेडिसिन पतंजलि | Patanjali Time Badhane wali मेडिसिन

  2. Pingback: पौरुष शक्ति बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा|6 सर्वश्रेष्ठ आयुर्वेदिक दवाएं |

  3. Pingback: Eye Care Tips in Hindi : आँखों की देखभाल के लिए अपनाएं ये तरीके - Neerfit

Leave a Comment

Your email address will not be published.