Jukam Ka Ilaj – जुकाम से परेशान हैं, अपनाएं ये 10 घरेलू नुस्खे

jukam ka ilaj

Jukam ke gharelu upay : मौसम में बदलाव के साथ सर्दी-जुकाम होना आम बात है। यह एक ऐसी समस्या है जो किसी से पूछकर नहीं आती बल्कि स्वाभाविक रूप से हो जाती है। आमतौर पर naak bahane जैसी समस्या सर्दी के कारण होती है।

लेकिन कुछ मामलो में यह ठंड लगने या गीले होने पर भी हो सकती है। Sardi jukam ka permanent ilaj वैसे तो कुछ ही दिनों में ठीक किया जा सकता है, लेकिन कभी-कभी यह अधिक समय तक भी रह सकता है। ऐसे में बहुत से लोग jukam ki dawa लेने की सलहा देते है, जिससे जुकाम को ठीक किया जा सकें।

लेकिन jukam ki goli के बाद भी इसके आने की संभावना बनी रहती है। ऐसे में अगर समय रहते jukam ke upay न किया गया तो यह गंभीर रूप भी ले सकता है।

इसलिए हम निरफिट के इस लेख में सर्दी जुकाम के घरेलू उपाय, सर्दी जुकाम के कारण और सर्दी जुकाम के लक्षणों के बारे में बताएंगे, तो अंत तक हमारे लेख को पूरा पढ़ें।

चलिए सबसे पहले जानते है जुकाम कैसे होता है?

जुकाम क्या है? – What is Common Cold in Hindi

जुकाम लोगों को होने वाला सबसे आम संक्रमणो में से एक है। इसमें आपकी नाक लगातार बहती रहती है। यह बीमारी बिलकुल आम है, लेकिन कुछ मामलो में यह थोड़ी समस्या भी पैदा कर सकता है।

यह रोग ऊपरी श्वास नलिका में होता है। प्रारंभिक अवस्था में छींक आना या नाक बहना काफी आम है।

जुकाम के कारण – Causes of Common Cold in Hindi

सर्दी-जुकाम होने के कई कारण हो सकते हैं। जैसे- सर्दी, खांसी, संक्रमण, मौसम में बदलाव और ठंड या गीलापन महसूस होना आदि।

सर्दी के कारण बुखार, सिरदर्द और शरीर में दर्द जैसी कई समस्याओं का सामना भी  करना पड़ता है। अगर समय रहते common cold ka gharelu upchar नहीं किया गया तो आपको बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

चलिए अब जानते है जुकाम होने के कारण 

  • संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से भी सर्दी-जुकाम हो सकता है।

  • 15-30 फीसदी मामलों में सर्दी के लिए भी कोरोना वायरस जिम्मेदार है।

  • 30-80 प्रतिशत मामलों में सर्दी के लिए राइनोवायरस भी जिम्मेदार होता है।

  • सर्दी-जुकाम संक्रमित व्यक्ति से भी हो सकता है। यह रोग तब भी होता है जब संक्रमित व्यक्ति की छुई हुई चीजों को दूसरा व्यक्ति छू लेता है।

  • यह रोग मौसम में बदलाव के कारण भी हो सकता है।

  • ठंड लगने या गीले कपड़े पहनने से भी सर्दी-जुकाम फैलता है।

और पढ़ें : ब्रेन हेमरेज के लक्षण, कारण और बचने के उपाय

जुकाम के लक्षण – Symptoms of Common Cold in Hindi

Common Cold Symptoms in Hindi

सर्दी-जुकाम एक आम बीमारी है, लेकिन अगर समय पर इसका इलाज न किया जाए तो यह बीमारी बेहद खतरनाक रूप भी ले सकती है। सर्दी-जुकाम के कारण बुखार, सिरदर्द और शरीर में दर्द जैसी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

कभी-कभी सर्दी-जुकाम की वजह से हमारी नाक बंद हो जाती है, जिससे सांस लेने में दिक्कत होती है और कई बार नाक बहुत ज्यादा बहने लगती है, जिसके कारण हम किसी भी काम को करने में असमर्थ हो जाते है।

जब हमारी नाक बंद हो जाती है तो हमें कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है और शरीर में दर्द के साथ बुखार भी आता है।  यदि  समय रहते इसके jukam ke lakshan को पहचान कर jukam ka desi ilaj न किया गया तो आपको कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

चलिए अब जानते है सर्दी-जुकाम के लक्षण 

  • बार-बार छींक आना

  • बहती नाक

  • नाक बंद

  • गले में खराश

  • खांसी

  • गले में बलगम

  • आंखों से पानी निकलना

  • बुखार

  • सिरदर्द और भारीपन

  • आंखों में जलन

और पढ़ें : उल्टी रोकने के 8 आसान घरेलू उपाय

सर्दी जुकाम का घरेलू उपचार – home remedies for Common Cold in hindi

home remedies for Common Cold in hindi

Sardi jukam ka gharelu upay का उपयोग करके ही इससे बचा जा सकता है। हमने नीचे बिलकुल सरल भाषा में jukam ka desi ilaj बताया है, जिन्हे अपनाने से आपका जुकाम तुरंत ही ठीक हो जायेगा।

तो चलिए जानते है जुकाम का इलाज – common cold treatment at home in hindi

अदरक से करें बहती नाक का  उपचार

  • अदरक में कई एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो सर्दी के इलाज के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। अगर आप अदरक की चाय का सेवन करते हैं तो आपको काफी फायदा होगा। अदरक की चाय सबसे अच्छी चाय है और यह झटपट बन जाती है। एक कप में अदरक के 3 टुकड़े, 1 कप गर्म पानी और दालचीनी डालकर गैस पर रख दें।
  • जब यह अच्छे से उबल जाए तो इसे गर्मागर्म पिएं, ऐसा करने से आपकी बहती नाक के साथ-साथ  गले से संबंधित बीमारियां भी ठीक हो जाएँगी। इसलिए हो सके तो दिन में कम से कम दो से तीन बार इसका सेवन करें। यह आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होगा।
  • इसके अलावा अदरक की कुछ कलियां लें और उन्हें गर्म पानी में कुछ मिनट के लिए छोड़ दें। जब इसमें पानी आधा रह जाए तो इसमें शहद मिलाकर पीएं। आप दिन भर में इसका दो से तीन कप सेवन कर सकते हैं।

जुकाम को ठीक करने के लिए लहसुन का प्रयोग

Home remedies for common cold से आप घर पर ही अपना इलाज कर सकते हैं। जी हां, लहसुन के सेवन से आप सर्दी-जुकाम से बच सकते हैं। इसके लिए आपको बस लहसुन का इस्तेमाल करना होगा।

लहसुन में कई एंटीबायोटिक गुण पाए जाते हैं, जो हमारे स्वास्थ्य के प्रति बहुत संवेदनशील होते हैं, अगर किसी की नाक बंद हो जाती है या सर्दी के कारण नाक से पानी आ रहा है, तो लहसुन का उपयोग बहुत फायदेमंद होता है। आपको इसका उपयोग कैसे करना है, हमने नीचे बताया है।

 आप लहसुन की कली और हल्दी पाउडर को पानी में मिलाकर उबाल लें। जब यह पक जाए तो इसे उतार लें और ठंडा होने दें। जब यह ठंडा हो जाए तो इसका सेवन करें, ऐसा करने से आपकी नाक खुल जाएगी और अगर पानी आ रहा है तो इससे भी छुटकारा मिल जायेगा।

इसके अलावा लहसुन की कलियों को पीस लें, फिर इसमें शहद मिलाकर खाने से आपको बहुत फायदा मिलेगा। आप दिन भर में इसका दो बार सेवन कर सकते हैं।

नमक वाले पानी से गरारे

नमक के पानी से गरारे करने से भी सर्दी-जुकाम का घरेलू उपचार किया जा सकता है। जुकाम होने पर गले में तकलीफ महसूस होती है। एक शोध में पाया गया है कि नमक यानि सोडियम में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो सर्दी के वायरस से निजात दिलाने में मदद करते हैं। इसलिए सर्दी-जुकाम होने पर सबसे पहले नमक के पानी से गरारे करें।

इस उपाय को करने के लिए 1 कप पानी में 1 चम्मच नमक मिलाकर घोल लें। इस पानी से 30 सेकेंड तक गरारे करें, आपको काफी लाभ मिलेगा। यह उपाय naak bahane से बचाएगा और साथ ही गले की खराश को भी दूर करेगा।

सरसो के तेल के फायदे जुकाम में

बहती नाक के इलाज के लिए आप सरसों के तेल का उपयोग कर सकते हैं। सरसों के तेल की महक काफी असरदार होती है और इसे सांस लेने से आपकी बहती नाक का इलाज आसानी से हो जाएगा और साथ ही आप आसानी से सांस भी ले पाएंगे।

इसके अलावा  एक कटोरी में 1 चम्मच सरसों का तेल डालकर 10 सेकेंड के लिए माइक्रोवेव में रख दें। फिर दोनों नथुनों में एक-एक बूंद डालें। इससे आपको काफी आराम मिलेगा।

आप बादाम रोगन या सरसों के तेल की 2-2 बूँदें बिना गर्म किए दोनों नथुनों में भी डाल सकते हैं।

हल्दी और दूध से करें जुकाम का देसी इलाज

हल्दी एक आयुर्वेदिक औषधि है जिसका उपयोग कई बीमारियों को ठीक करने के लिए किया जाता है। यहाँ इसका इस्तेमाल सर्दी-जुकाम और गले ही खराश के लिए किया जा रहा है।

इसके लिए एक गिलास गर्म दूध में 2 चम्मच हल्दी डालकर अच्छी तरह मिला लें। इस मिश्रण का सेवन रोज रात को सोने से पहले करें।

jukam ka gharelu ilaj बहती नाक या सर्दी के लिए किया जा रहा है। इस मिश्रण को रोज रात को सोने से पहले पीने से नाक बहना बंद हो जाएगी साथ ही गले की खराश में भी आराम मिलेगा।

ध्यान रखें की जब तक जुकाम ठीक नहीं हो जाता तब तक इस मिश्रण का सेवन करें।

मेथी से करें जुकाम का घरेलू उपाय

मेथी में वे सभी औषधीय गुण होते हैं जो स्वस्थ शरीर के लिए आवश्यक हैं। एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार सर्दी-जुकाम के लिए मेथी का उपयोग बहुत लाभकारी होता है।

methee में पाएं जाने वाले एंटी माइक्रोबियल गुण सर्दी जुकाम से छुटकारा दिलाने व  साथ ही बहती नाक को रोकने के लिए किया जाता है। 

मेथी के फायदों के बारे में आप सभी जानते ही होंगे, मेथी का इस्तेमाल सदियों से किया जा रहा है। मेथी में वे सभी औषधीय गुण है जो एक स्वस्थ शरीर के लिए जरुरी है।

अगर किसी व्यक्ति को सर्दी-जुकाम हो जाएँ तो वे मेथी का इस्तेमाल कर सकतें है। ऐसा करने के लिए मेथी के दानों को पानी में डालकर कुछ मिनट के लिए उबाल लें। थोड़ा ठंडा होने के बाद इसमें शहद डालकर अच्छी तरह मिला लें। ध्यान रहे कि यह मिश्रण थोड़ा गर्म हो, यानी इसे गर्म ही पिएं।

जुकाम में फायदेमंद है प्याज

जुकाम का इलाज प्याज से भी किया जा सकता है। प्याज एक expectorant के रूप में कार्य करता है, जो सर्दी से बनने वाले बलगम को बाहर निकालने में मदद करता है। इसके साथ ही यह बलगम को बनने से भी रोकता है।

डॉक्टरों के शोध के अनुसार प्याज में एंटीवायरल क्षमता होती है, जो सर्दी-जुकाम के संक्रमण से राहत दिलाने में मदद करता है। अगर किसी व्यक्ति को सर्दी-जुकाम हो जाएँ तो वह sardi jukam ke upay के लिए प्याज का उपयोग कर सकता है।

आप प्याज का इस्तेमाल सर्दी जुखाम के लिए इस तरह कर सकते हैं कि आप प्याज को छीलकर टुकड़ों में काट लें, अब इन टुकड़ों को शहद में डाल दें, फिर रात भर  के लिए  एयर टाइट डिब्बे में बंद करके रख दें। फिर इन एक-दो टुकड़ों को रोजाना खाया जा सकता है। 

वेजिटेबल सूप से भी करें जुकाम का घरेलू उपाय

देखिए, जुकाम के इलाज के लिए सबसे अच्छा और असरदार तरीका वेजिटेबल सूप पीना है। वेजिटेबल सूप में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाएं जाते है। जो संक्रमण से राहत दिलाने में मदद करते है।

सर्दी-जुकाम के लिए आप प्रभावी रूप से वेजिटेबल सूप का इस्तेमाल कर सकतें है। वेजिटेबल सूप का इस्तेमाल करने के लिए आप मार्किट से रेडीमेड वेजिटेबल सूप पाउच या स्वयं भी वेजिटेबल सूप बना सकते है।

सर्दी जुकाम के लिए अदरक, काली मिर्च, तुलसी की पत्तियों और लौंग से बनायें काढ़ा

jukam ka desi nuskha के लिए आप अदरक, काली मिर्च, तुलसी की पत्तियों और लौंग से काढ़ा बना सकतें है। यह काढ़ा सर्दी-जुकाम से संबंधित सभी समस्याओं को कम करने में मदद करता है। यह काढ़ा इन्फेक्शन को ख़त्म करने, साथ ही सर्दी-जुकाम से राहत दिलाने में मदद करता है।

काढ़ा बनाने के लिए आप अदरक, काली मिर्च, तुलसी की पत्तियों और लौंग को बराबर मात्रा में पीस लें, फिर इसमें पानी डालकर उबालने के लिए रख दें, जब इसमें पानी आधा रह जाये तो इस मिश्रण को  छानकर, शहद मिलाकर पी लें।

रोजाना आप दो कप का सेवन कर सकतें है।

सेब के सिरका से करें जुकाम का घरेलु इलाज

सर्दी के लिए आप सेब के सिरके का इस्तेमाल कर सकते हैं। सेब के सिरके में रोगाणुरोधी गुण होते हैं, जो संक्रमण से लड़ने में मदद करते हैं।

डॉक्टरों के मुताबिक सर्दी-जुकाम के लिए वायरस जिम्मेदार होते हैं। इसलिए यह नुस्खा वायरस को खत्म करता है और सर्दी-जुकाम से राहत देता है।

सेब के सिरके का इस्तेमाल करने के लिए इसे पानी में डालकर अच्छी तरह मिला लें, फिर इसमें स्वादानुसार थोड़ा सा शहद मिलाएं, अब इसे पी लें। अब आप रोजाना इसका दो से तीन गिलास इसका सेवन कर सकते हैं।

जुकाम से बचने के उपाय – Home Remedies to avoid Common cold in Hindi

  • हाथ साफ रखें और Sanitizer का इस्तेमाल करें।

  • अपने आस-पास साफ-सफाई रखें और नियमित रूप से नहाएं।

  • अपने कपड़े और तौलिये को किसी को इस्तेमाल करने न दे।

  • जिन लोगो को यह संक्रमण यानि सर्दी-जुकाम है उनके ठीक होने तक उनसे दूरी बनाकर रखें।

  • नियमित रूप से व्यायाम करें और 8 घंटे की नींद लें।

और पढ़ें : जानिए कमर दर्द का रामबाण इलाज, कारण और बचाव के उपाय

निष्कर्ष -Conclusion

सर्दी-जुकाम को आसानी से ठीक किया जा सकता है। आप घर में मौजूद सामग्रियों की मदद से ऐसा कर सकतें है। जी हां, सर्दी-जुकाम के home remedies की मदद से आप इस बीमारी से बच सकते हैं।

बस ध्यान रखें स्वस्थ और  संतुलित आहार खाएं और नियमित रूप से व्यायाम करें।

मुझे उम्मीद है कि अब आप sardi jukam ka gharelu ilaaj को जान गए होंगे। अगर आप sardi-jukam के home remedies से जुड़ी सही जानकारी पाना चाहते हैं तो हमारे इस लेख पर एक नज़र डालें।

अगर आपको bacho ke khasi jukam thik karne ke gharelu upay के लेख से संबंधित कोई सवाल या सुझाव है तो हमे कमेंट के जरिये जरूर बताएं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *