अधोमुख श्वानासन योग करने की विधि, लाभ और सावधानियां – Adho Mukha Svanasana Pose In Hindi

Adho Mukha Svanasana in Hindi

Adho Mukha Svanasana in Hindi:- आज के समय में, योग ने न केवल भारतीय जमीन पर बल्कि विदेशी जमीन पर भी, अपनी छाप छोड़ी है। लोगों ने स्वस्थ और फिट रहने के लिए इसे अपनी पहली पसंद बना लिया है।

योग के अंदर कई मुद्राएं और आसन आते है, जिनकी मदद से हम शारीरिक और मानसिक दोनों लाभ उठाते है।

लेकिन आज हम जिस आसन की बात करने जा रहे हैं वह है अधोमुख श्वानासन।

Adho Mukha Svanasana न केवल शारीरिक बल्कि मानसिक लाभ भी पहुँचाता है। यह हमारी मांसपेशियों को मजबूत करने के साथ-साथ उन्हें टोन भी करता है।

यह दिमाग को शांत रखने और तरोताजा करने में भी मदद करता है।

वैसे तो अधोमुख श्वानासन योग के अंदर बहुत सारी चीजे आती है लेकिन आप इस लेख में जानेगे की अधोमुखश्वानासन क्या है, अधोमुखश्वानासन करने की विधि, अधोमुखश्वानासन के स्वास्थ्य लाभ और इससे जुडी कुछ सावधानियां, तो अंत तक हमारे लेख को पूरा पढ़ें।

तो चलिए सबसे पहले जानते है अधोमुखश्वानासन क्या है? Adho Mukha Svanasana Kya Hai

अधोमुख श्वानासन क्या है – What is Adho Mukha Svanasana in Hindi

अधोमुख श्वानासन को अंग्रेजी भाषा में Downward Facing Dog Pose भी कहते हैं। यह आसन संस्कृत भाषा के 4 शब्दों से मिलकर बना है, अध + मुख + श्वान + आसन।

अध शब्द का अर्थ होता है नीचे या आगे और मुख शब्द का अर्थ होता है चेहरा यानी फेस। यानि अधोमुख शब्द का अर्थ होता है नीचे की तरह मुंह करना।

 साथ ही श्वान शब्द का अर्थ होता है कुत्ता और आसन शब्द का अर्थ होता है मुद्रा। यानी अधोमुख श्वानासन शब्द से मिलकर बनता है ऐसा आसन जिसमें मनुष्य की आकृति कुत्ते के आगे और झुके होने के समान दिखाई देती है, इसलिए इस आसन को Adho Mukha Svanasana कहते हैं।

यह आसन सूर्य नमस्कार के 12 आसनों में से एक है, इसलिए इस आसन का अपना महत्व है। अष्टांग योग ने भी इस आसन को महत्व दिया है। इन सभी आसनों या मुद्राओ की खास बात यह है कि ये सभी आसन पर्यावरण के जानवरों और पेड़ पौधों से लिए गए हैं, इसलिए इस आसन को कुत्ते से प्रभावित होकर बनाया गया है।

आपने देखा होगा कि कुत्ते अपनी थकान मिटाने के लिए अपनी टांगों को आगे की ओर फैलाते हैं और स्ट्रेच करते है, ठीक उसी तरह इंसान अपने हाथों को सामने जमीन पर रखकर स्ट्रेच करते है।

आइए आप जानते हैं अधोमुखश्वानासन योग करने का सही तरीका – Adho Mukha Svanasana Pose in Hindi

अधोमुखश्वानासन करने की विधि – How to do Adho Mukha Svanasana Pose in Hindi

How to do Adho Mukha Svanasana Pose in Hindi
How to do Adho Mukha Svanasana Pose in Hindi

वैसे तो इस आसन को बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी आसानी से कर सकते हैं, मगर इस आसन का सही तरीका मालूम होना चाहिए। हमने देखा है कि बहुत से लोग इस आसन को करने में असमर्थ होते हैं, क्योंकि उनको Adho Mukha Svanasana karne ki shi vidhi  पता नहीं होती है,

 इसलिए उन लोगों के लिए हमने यह adho mukha svanasana steps in hindi का लेख लिखा है।

तो दोस्तों बिना किसी देरी के आइये जानते है अधोमुख श्वानासन कैसे किया जाता है – Right Technique to do Adho mukha Ssvanasana

और पढ़ें :- योनि मुद्रा करने की विधि, लाभ और सावधानियां

अधोमुखश्वानासन करने की विधि – How to do Adho Mukha Svanasana Pose in Hindi

  • सबसे पहले योगा मैट पर सीधे खड़े हो जाएं।

  • शरीर को बिल्कुल सीधा रखें और हाथों को आसमान में उठाए।

  • अब हाथों को नीचे जमीन की तरफ झुकाएं, साथ ही ऊपरी शरीर को भी।
  • अब अपनी हथेलियों को जमीन पर रखें, जैसे कि ऊपर इमेज में दर्शाया गया है।

  • ध्यान रखें कि इस आकृति में आप उल्टे V  के समान दिखाई दे।

  • अपने हाथों, कोहनियो और घुटनों को सख्त बनाएं।

  • ध्यान रखें कि आपके कंधे और हाथ एक सीध में रहे और आप के कूल्हे और पैर एक सीध में।
  • इस स्थिति में आने के बाद कुछ समय तक बने रहे ,फिर अपनी प्रारंभिक स्थिति में आ जाएं।

और पढ़ें :- मंडूकासन योग करने की विधि, लाभ और सावधानियां

अधो मुख श्वानासन के लिए वीडियो – Video for Adho Mukha Svanasana in Hindi

अधोमुख श्वानासन योग करने के फायदे – Adho Mukha  Svanasana Benefits in Hindi

इस आसन के नियमित व निरंतर अभ्यास से शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक लाभ भी मिलते हैं। इसके इतने सारे फायदों को देख कर ही हमने यह adho mukha svanasana ke fayde in hindi का लेख लिखा है।

यदि आप इसके लाभों को विस्तार से जानना चाहते हैं, तो हमने नीचे इसके फायदे को विस्तार से बताया है, उन्हें पढ़ना न भूले। तो आइए जानते हैंअधोमुख श्वानासन  के लाभ – Adho Mukha Svanasana Ke Labh

मांसपेशियों को बनाए मजबूत (Make Muscles Strong)

इस आसन के निरंतर अभ्यास से मांसपेशियां मजबूत होती हैं, आपने देखा होगा कि इस आसन के अभ्यास से हाथों, कंधों और पैरों की मांसपेशियों पर अधिक जोर पड़ता है, जो इसे मजबूत बनाने के साथ-साथ सही आकार भी देता है।

पाचन तंत्र में सुधार करता है (Improves Digestive Dystem)

यह आसन पाचन तंत्र को सुधारता है और पेट को साफ रखता है। इस आसन को करते समय पेट की मांसपेशियों पर जोर पड़ता है, जो पाचन से जुड़ी समस्याओं को दूर कर उन्हें स्वस्थ बनाता है। यह पेट से संबंधित समस्याओं जैसे अपच, कब्ज, गैस, एसिडिटी की समस्या से भी छुटकारा दिलाता है।

रक्त परिसंचरण में सुधार करता है (Improves Blood Circulation)

यह आसन पूरे शरीर में रक्त संचार को सुधारता है, यह आसन उल्टे वी के समान दिखाई देता है जो के शरीर में ब्लड के फ्लो को बढ़ाता है और हृदय ब्लड को जल्दी से बॉडी में पंप करता है। अगर आप इस आसन का सही तरीके से अभ्यास करेंगे तो यह बहुत ही जल्द आपको बेनिफिट् देगा।

चिंता को कम करता है (Reduces Anxiety)

यह आसन चिंता को कम करके मन को शांत रखता है, कई लोगों को देखा गया है कि वे anxiety को नियंत्रित करने में सक्षम नहीं हैं और वे इससे होने वाली कठिनाइयों का सामना करने में भी असमर्थ हैं।

अगर वे anxiety की समस्याओं से जल्दी छुटकारा पाना चाहते है तो इस आसन को एक बार जरूर करे।

 यह आसन चिंता से मुक्ति दिलाने के साथ-साथ तनाव व अवसाद से भी छुटकारा दिलाता है।  

अधोमुख श्वानासन के अन्य फायदे – Benefits of Adho Mukha Svanasana in Hindi

  • यह आसन दिमाग को शांत रखता है और सिरदर्द, थकान, नींद की समस्या से भी छुटकारा दिलाता है।

  • यह आसन पेट की मांसपेशियों को मजबूत करने के साथ-साथ पेट को भी कम करता है। (पेट की चर्बी को कम करता है)

  • यह शरीर में ऊर्जा को पुनर्जीवित करता है और आपको ऊर्जा से भर देता है।

  • अस्थमा के मरीजों के लिए भी यह आसन बहुत फायदेमंद होता है।

  • यह आसन पैरों, बाहों और कंधों के दर्द से भी छुटकारा दिलाता है।

  • यह आसन तनाव, चिंता और अवसाद जैसे रोगों को भी दूर करता है।

अधोमुख श्वानासन करने से पहले यह आसन करें – Downward Facing Pose in Hindi

अधोमुख श्वानासन करने से पहले ध्यान देने वाली बातें –

  • योगियों द्वारा बताया गया है कि इस आसन का सर्वोत्तम लाभ पाने के लिए इसे सुबह के समय करना चाहिए।

  • अगर आप इस आसन को सुबह नहीं कर पा रहे हैं तो शाम को करें।

  • बस इस बात का ध्यान रखें कि शाम को इस आसन को करने से 3 से 4 घंटे पहले कुछ भी न खाएं।

  • सुनिश्चित करें कि इस आसन को करने से पहले पेट खाली हो।

  • कोई भी आसन या मुद्रा करने से पहले एक बार वार्मअप जरूर करें।

अधोमुख श्वानासन करते समय ध्यान रखें ये सावधानियां – Precautions for Adho Mukh Svanasana in Hindi

  • अगर आपको हाल ही में हाथ कलाई पीठ में कोई चोट, सूजन या किसी भी तरह की समस्या है, तो एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

  • अगर आप हाई ब्लड प्रेशर (High BP) के मरीज है तो आसन को ना करें।

  • अगर आप किसी भी आँख की समस्या से जूझ रहे हैं तो आसन को ना करें।

  • आँख की समस्याएं जैसे कमजोर नेत्र कोशिकाएं और रेटिना में खराबी।

  • गर्भवती महिलाएं इस आसन से दूर रहें।

  • अगर आपको डायरिया जैसी समस्या है तो आसन को ना करें।

  • अगर आपको यह आसन करते समय किसी प्रकार का दर्द एवं समस्या महसूस हो तो आसन को ना करें।

निष्कर्ष (Conclusion)

आशा है कि अब आपको  adho mukh savasana steps and benefits के लेख को जानकर इससे जुड़ी सभी जानकारियों को हासिल कर पाए होंगे।

उम्मीद है कि आपको हमारा यह लेख adho mukh savasana pose in hindi पसंद आया होगा। अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो हमें कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें।

और पढ़ें :- योग और प्राणायाम

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *