वीर्य की कमी के लक्षण, कारण और उपाय

हमारे समाज में पुरुषों की मर्दानगी हमेशा इस बात से तय होती है। कि उसमें सेक्स करने की सहनशक्ति कितनी है। और कितनी देर तक सेक्स कर सकता है। इसका तात्पर्य पुरुषों के वीर्य से होता है। क्योंकि सेक्स के दौरान पुरुषों के पेनिस से निकलने वाला वीर्य ही बच्चे की उत्पत्ति के लिए कारगर साबित होता है। यह बात सच है। कि अगर पुरुषों के अंदर वीर्य ना के बराबर हो तो फिर वह सेक्स कर सकता है। लेकिन बच्चे पैदा नही कर सकता । इससे उसकी मर्दानगी पर सवाल उठने लगते हैं। कई बार कमजोर और वीर की कमी कारण पुरुष हताश हो जाते हैं। और शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है। पुरुषों में वीर्य की कमी का मतलब लिंग से वीर्य कम मात्रा में निकलना होता है। वैसे तो बच्चे की उत्पत्ति के लिए शुक्राणु की आवश्यकता होती है। जिसे हम मेडिकल भाषा में ओलीगो स्पर्मियां कहते हैं। क्या आप जानते हैं। कि शुक्राणु पुरुषों के लिंग से गाढ़े सफेद रंग के वीर्य से निकलते हैं। वीर्य की कमी का मतलब होता है। शुक्राणु की कमी और शुक्राणु का ना बनना । आज हम आपको अपने आर्टिकल के जरिए यह बताने की पूरी कोशिश करेंगे। कि वीर्य की कमी के क्या कारण हैं। क्या इसके लक्षण है। और क्या इसके उपाय हैं। इसकी पूरी विस्तृत जानकारी आपको इस आर्टिकल में मिल जाएगी कृपया आर्टिकल को अंत तक पढ़े।

वीर्य क्या होते हैं

वीर्य एक प्रकार का तरल पदार्थ है। जो थोड़ा गाढ़ा सफेद रंग का होता है। यह वीर्य पुरुषों के ऑर्गेज्म से निकलकर लिंग की ओर से बाहर निकलता है। इस वीर्य के अंदर स्पर्म होते हैं । जो रिप्रोडक्टिव सेल्स होते हैं। स्पर्म के आगे के सिरे में महिला के अंडे को निषेचित अनुवांशिक सामग्री होती हैं। 1 ग्राम वीर्य के अंदर लाखों की संख्या में स्पर्म होते हैं। वीर्य में रहकर स्पर्म अपनी क्रिया करते हैं। जो से महिला के प्रजनन सिस्टम में अंडे तक पहुंचने में मदद करती है। इस वीर्य के कारण ही महिला का गर्भधारण आसान हो जाता है।

क्या है वीर्य की कमी के लक्षण

आमतौर पर पुरुषों में सीमेन का वाल्यूम, 1.5 ml से 5 ml के बीच होता है। विशेषज्ञों के अनुसार अगर किसी पुरुष का वीर्य 1 पॉइंट 5 ml से कम है। तो इस अवस्था को हाइपो स्पर्मिया कहते हैं। वीर्य की कमी के कारण पुरुषों को पिता बनने में समस्या आती है। इसके अलावा कुछ अन्य समस्याएं भी हैं जो निम्न प्रकार हैं।

  • वीर्य की कमी के कारण पुरुषों में सेक्स की इच्छा कम हो जाती है साथ ही हारमोंस असंतुलित हो जाते हैं। और टेस्टीकल्स में दर्द बढ़ जाता है।
  • वीर्य की कमी के कारण सेक्स की इच्छाएं धीरे-धीरे समाप्त होने लगती हैं। पेनिस में दर्द होने लगता है। और पेनिस में इरेक्शन आना बंद हो जाता है।
  • वीर्य की कमी के कारण पेनिस में सूजन ,खुजली आदि समस्याओं से जूझना पड़ सकता है।
  • वीर्य की कमी के कारण बाल झड़ना , जी मिचलाना चक्कर आना, पेट में दर्द होना , पेट के निचले हिस्से में दर्द होना , और किडनी प्रभावित होना आदि के लक्षण हैं ।

वीर्य की कमी के मुख्य कारण क्या है

पुरुषों में शुरू से ही या फिर सामान्य रूप से वीर्य की कमी होना आसान नहीं है। इसके पीछे कई वाजिब कारण मिल जाते हैं। यह बात सच है कि प्रत्येक पुरुषों में वीर्य की मात्रा अलग-अलग होती है। किसी का वीर्य अधिक पतला। तो किसी व्यक्ति अधिक गाढ़ा हो सकता है। आइए जानते हैं। वीर्य की कमी के मुख्य कारण

  • वीर्य की कमी का एक कारण पुरुषों की बढ़ती उम्र भी हो सकती है क्योंकि बढ़ती उम्र के साथ नसें कमजोर होने लगती हैं। यह वह नसें होती हैं जो पेनिस के माध्यम से वीर्य निकलता है । इन मांसपेशियों के कमजोर होने पर इजेकुलेशन फोर्स में कमी आ सकती है।
  • वीर्य की कमी के कारण शुक्राणुओं की संख्या कम होती है यह बच्चे उत्पत्ति के लिए हानिकारक तो है ही साथ ही यह सेक्स लाइफ को भी पूरी तरह शांत कर देती है।
  • वीर्य की कमी पुरुषों में मर्दानगी जैसे सवाल उठाते हैं।
    अधिक मात्रा में शराब पीना सिगरेट पीना इसके मुख्य वाजिब कारण बन सकते हैं। क्योंकि अधिक मात्रा में शराब पीने से पेनिस का ब्लड फ्लो धीमा हो जाता है और नर्वस सिस्टम को कमजोर कर देता है जिसे सेक्स के दौरान शुक्राणु कम हो जाते हैं।
  • जानकारों के मुताबिक वीर्य की कमी के कारण साइकोलॉजिकल फैक्ट भी होते हैं जैसे अत्यधिक तनाव लेना किसी बात की लगातार चिंता करते रहना दबाव महसूस करना पार्टनर से झगड़ा होना पार्टनर के प्रति सहज कम होना पार्टनर के साथ सेक्स में बदलाव आना आदि कारण हो सकते हैं।
  • वीर्य की कमी से कभी-कभी बड़े हुए प्रोटेस्ट और प्रोटेस्ट ग्रंथि या फिर प्रोटेस्ट कैंसर के कारण शुक्राणु का फ्लो प्रभावित करता है । प्रोटेस्ट ग्रीन टी के ऑपरेशन के दौरान अगर नर्वस सिस्टम धीमा हो जाता है तो वीर्य की कमी के कारण बन सकते हैं।
  • वीर्य की कमी का एक मुख्य कारण यह भी है अनावश्यक दवाई लेना डिप्रेशन से संबंधित दवाई लेना हाई बीपी से संबंधित दवाई लेना या फिर नींद की दवाई लेना इसके मुख्य कारण है। वीर्य की कमी का इलाज कैसे करें।

ऐसा तो नहीं है कि अगर कोई बीमारी पनप रही है। तो उसका इलाज नहीं किया जा सकता। दुनिया में हर किसी बीमारी का इलाज है। वीर्य की कमी कोई लाइलाज बीमारी नहीं है। इसका इलाज संभव है। वीर्य की कमी का इलाज तभी संभव है। जब यह पता लग जाए किस किस कारण हुआ है। ‌ तभी आसानी से वीर्य की कमी को दूर किया जा सकता है वीर्य की कमी निम्न तरीकों से दूर कर सकते हैं। वीर्य की कमी आप एक्सरसाइज करके दूर कर सकते हैं जैसे आपको पेल्विक एक्सरसाइज करनी चाहिए कीगल एक्सरसाइज करनी चाहिए साथ ही मसल्स टाइट करने वाली एक्सरसाइज करनी चाहिए। आप साइकोथेरेपी से भी इसका इलाज कर सकते हैं। क्योंकि सेक्सुअल फंक्शन एक कांपलेक्स प्रक्रिया है। जिसमें ब्रेन और नर्वस सिस्टम सहित शरीर के कई ऑर्गेज्म शामिल होते हैं। वीर्य की कमी अंग्रेजी दवाई आयुर्वेदिक दवाई होम्योपैथिक दवाओं से ठीक किया जा सकता है । वीर्य से संबंधित बाजार में मेडिकल स्टोर पर कई तरह की दवाएं उपलब्ध हैं इसके अलावा आप डॉक्टर से परामर्श कर ही दवाई खाएं।

वीर्य को बढ़ाने के लिए क्या खाएं

वीर्य की कमी कई पुरुषों के लिए शर्मिंदगी बन कर रह जाती है। यह जीवन पर्यंत चलती है। क्योंकि इससे उसकी सेक्सलाइफ पूरी तरह धूमिल हो जाती है। पुरुष कई बीमारियों से ग्रस्त होने लगते हैं लेकिन अगर वीर्य की कमी से पीड़ित व्यक्ति अपने खानपान पर अच्छी तरह ध्यान दें तो इस कमी को दूर किया जा सकता है हम आपको बताते हैं की वीर्य की कमी के कारण जो पुरुषों को परेशानी उठानी पड़ती है। वह अपने भोजन में क्या क्या शामिल करें और उन्हें क्या खाना चाहिए।

  • ऐसे व्यक्तियों को प्रोसेस्ड फूड का सेवन करना चाहिए। कम वसा वाले आहार लेना चाहिए।
  • वीर्य की कमी वाले पुरुषों को हरे पत्तेदार सब्जी, फाइबर युक्त सब्जियां आदि का सेवन करना चाहिए।
  • फलों में विटामिन सी और जिन फलों में एंटी ऑक्सीडेंट की मात्रा हो उन फलों का सेवन करना चाहिए।
  • मिनिरल जिंक सी जुड़ी चीजें खानी चाहिए मांस मछली अखरोट और बींस का सेवन करना चाहिए।
  • विटामिन डी से जुड़ी चीजें लेनी चाहिए सूर्य की किरणों में विटामिन डी होता है 10 से15 मिनट सुबह सूर्य की किरणों के पास बैठना चाहिए।

वीर्य बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय

वीर्य की कमी ऐसी बीमारी है। जिससे मनुष्य पूरी तरह से टूट जाता है। सेक्स करनाल ज़िंदगी का एक अहम हिस्सा है। सेक्स न करने से मनुष्य में कई तरह की बीमारियां पनपती लगती हैं लेकिन कई बार मनुष्य वीर्य की कमी के कारण सेक्स नहीं कर पाते हमने अभी आपको ऊपर कुछ वीर्य बढ़ाने के अचूक उपाय बताएं अब आपको वीर्य बढ़ाने के लिए कुछ घरेलू उपाय के बारे में जानकारी देंगे। इन तरीकों से आप आसानी से बहुत जल्द वीर्य की कमी को पूरा कर सकते हैं। और अपनी सेक्स लाइफ को एंजॉय कर सकते हैं।

वीर्य की कमी को पूरा करने के लिए या बढ़ाने के लिए आप घरेलू उपायों कर सकते हैं। जैसे

दालचीनी को उपयोग कर सकते है। इसके साथ ही छोटी माई ,गुरुच ,दालचीनी ,गुंजा, गुलस करी शतावरी ,सिरस, मखाना, मुरब्बा ,कोलंबो ,काहू प्याज उड़द की दाल शिलाजीत आंवला खजूर केसर आज तरीकों से आप वीर्य की कमी को पूरा कर सकते हैं।

Leave a Comment